शीघ्र विवाह के लिए टोटके | Sheegra Vivah Totke

शीघ्र विवाह के लिए टोटके.. आपने अपने पास–पड़ोस में एक दो ऐसे स्त्री पुत्र अवश्य देखंें होगें जिनकी आयु काफी ज्यादा है किन्तु उनका विवाह अभी तक नहीं हुआ है। ऐसी कई वजह हो सकती है जिनकी वजह से किसी स्त्री अथवा पुरूष के विवाह में विलम्भ होता है। ऐसे कई टोकटे और उपाय हैं […]

लव मैरिज टोटके | Love Marriage Totke | प्रेम विवाह के लिए आसान उपाय

Lord Shiva, Goddess Parvati

लव मैरिज में अक्सर कोई कोई न अड़चन रूकावट आती ही है। ऐसे विवाह में लड़का और लड़की दोनो ही तरह के लोग विवाह के लिए राज़ी होते हैं। ऐसे में प्रेम करने वाले युगल के सामने गम्भीर समस्या होती है कि वे क्या करें ताकि दोनो तरफ के लोगों को विवाह के लिए मनाया […]

दुर्घटना से बचने के टोटके | Accident Totke | वाहन दुर्घटना से बचने के लिये आसान उपाय

वाहन दुघर्टन से बचने के लिए टोटके जव हम या हमारा कोई अपना वाहन से कहीं जाता है तो हमारे मन में कहीं न कहीं न संसय बना रहता है कि कहीं कोई दुर्घटना न हो जाये। छुट पुट घटनायें जिनमें हल्की फुल्की चोट–चपेट तो अक्सर हम सभी के साथ होती है लेकिन जब हम […]

नौकरी पाने के टोटके | Job Totke | नौकरी, प्रमोशन के लिए अचूक टोटके

नौकरी पाने के टोटके | Job Totke | नौकरी, प्रमोशन के लिए अचूक टोटके | Remedies to get job, promotion in Hindi. हम सभी नौकरीपेशा के सामने कोई न कोई परेशानि लगी रहती है कभी हमारी प्रमोशन रूक जाती है तो कभी नौकरी छूट जाती है। या जो जहाॅ जाॅब कर रहे है वह आपको […]

पुत्र प्राप्ति के लिये ज्योतिष उपाय | Putra Prapti Pujan | पुत्र प्राप्ति के लिए कौनसी पूजन करे

Krishna as Damodara

पुत्र प्राप्ति के लिये ज्योतिष उपाय घर में बच्चों से ही रौनक होती है जिस घर में बच्चे नहीं होते वह घर खाली सा लगता। ऐसा भी देखा गया है बहुत से दंपत्तियों या सिर्फ पुत्रों की ही प्राप्ति होती है या फिर पुत्रियों की। ऐसे दंपत्तियों की यही इच्छा होती है कि उनके यहाॅ […]

राशि अनुसार मंत्र | Rashi Anusar Mantra

राशि अनुसार मंत्र यहाँ प्रस्तुत किया हुआ है. यह मंत्र जाप करने से उस राशिवालों को जीवन के अनेक बाधाओं से छुटकारा मिलती है. दोस्तों इस संसार में हर व्यक्ति चाहता है कि से हर कार्य में सफलता मिले, उसके ऊपर माँ लक्ष्मी कि सदैव कृपा बनी रहे, इसके लिए वह दिन रात मेहनत करता […]

परिक्रमा – क्यों और कितनी, किस देव की कितनी परिक्रमा करनी चाहिये, परिक्रमा के नियम | Parikrama Kyon Kitni

परिक्रमा – क्यों और कितनी …. जब हम मंदिर जाते है तो हम भगवान की परिक्रमा जरुर लगाते है. पर क्या कभी हमने ये सोचा है कि देव मूर्ति की परिक्रमा क्यो की जाती है? शास्त्रों में लिखा है जिस स्थान पर मूर्ति की प्राण प्रतिष्ठा हुई हो, उसके मध्य बिंदु से लेकर कुछ दूरी तक […]

Health Totke | अच्छा स्वास्थ्य के लिए टोटके | Chamatkari Upay for good health

हम अक्सर देखते हैं कुछ एक घरों में एक न एक व्यक्ति किसी न किसी बीमारी से ग्रस्त रहता है। जिसकी वजह से घर के सभी सदस्यों को चिन्ता रहती है। हमारे यहाॅ कुछ ऐसे टोटटे बताये गये है जिनको करने से अपने परिवार सभी लोगों की हेल्थ रहती है। ध्यान रखें की टोटको के […]

Education Totke | पढ़ाई में उन्नति के लिए टोटके | Remedies for better Studies

Education Totke, अच्छी शिक्षा के लिए टोटके, पढ़ाई में उन्नति के लिए टोटके.. सभी माता पिता चाहते है कि उनके संतान अच्छी शिक्षा प्राप्त करें और इसके लिए वे हमेशा चिन्चित रहते है। विद्यार्थी भी अपने जीवन में अच्छी शिक्षा प्राप्त कर अच्छा जीवन का आनन्द लेना चाहता है। किन्तु कुछ एक विद्यार्थी ही अपने […]

पुत्र प्राप्ति के उपाय | Putra Prapti ke Upay

baby-ganapathi-shivaparvathi

पुत्र प्राप्ति के लिए उपाय एक समय था जब लोग अपने परिवार के लिए लड़कों को आवश्यक मानते थे। और लड़कियों को उनसे कम समझते थे। हालाकि अब इस सोच में वहुत बड़ा परिवर्तन देखने को मिलता है। और अब लोग लड़कियो और लड़को को समान रूप से देखने नगे है। ऐसा आपको सामान्यता देखने […]

पितृ दोष के लिए ज्योतिषीय योग, कैसे बनती है पितृ दोष | Pitru Dosh – Jyotish Yog

पितृ दोष के लिए ज्योतिषीय योग, पितृ दोष क्या होती है? कैसे बनती है पितृ दोष? पितृ दोष की कारण.. 1. लग्नेश की अष्टम स्थान में स्थिति अथवा अष्टमेष की लग्न में स्थिति। 2. पंचमेश की अष्टम में स्थिति या अष्टमेश की पंचम में स्थिति। 3. नवमेश की अष्टम में स्थिति या अष्टमेश की नवम […]

पञ्चमहापुरुष योग | Pancha Mahapurush Yoga

भारतीय ज्योतिष शास्त्र में पञ्चमहापुरुष योग | Pancha Mahapurush Yoga | कौनसी योग पञ्चमहापुरुष योग कहलाता है? १- रूचक योग (Ruchak Yog) जन्मकुण्डली में अगर मंगल अपनी राशि का होकर मूल त्रिकोण में अथवा उच्च राशि का होकर केन्द्र में स्थित हों , तो रूचक योग होता है। निष्कर्ष – रूचक योग में जन्म लेनेवाला […]

9 धन प्राप्ति के अचूक टोटके | 9 Dhan Prapti ke Achuk Totke

हर कोई व्यक्ति अपने जीवन में अधिक से अधिक धन प्राप्त करना चाहता है इसी इच्छा को मन मे पाल कर वह दिन रात मेहरत करता रहता है। परन्तु ऐसे बहुत कम लोग होते है जिन पर माॅ लक्ष्मी की कृपा बरसती है। हम मेहनत तो बहुत करते है पर उसका कोई फायदा नही होते […]

गर्भ में लड़का या लड़की होने के लक्षण | Garbh me ladka ya ladki hone ki lakshan

baby-ganapathi-shivaparvathi

गर्भावस्था का समय 9 माह का होता है जो कि सभी दम्पत्तियों के लिए काफी लम्बा समय होता। परिवार में सभी जन ये जानने को उत्सुक रहते हैं कि वो गर्भावस्था के लम्बे समय अन्तराल के बाद घर का चिराग कहे जाने वाले वालक का स्वागत करेंगें या फिर लक्ष्मी रूपी कन्या का। गर्भवती महिलायों […]

पितृ ऋण के कारण | Pitru Runa Ke Kaaran

पितृ ऋण के कारण, पितृ ऋण के कारण, कैसे बनते है पितृ ऋण, क्या होता है पितृ ऋण? Pitru Runa Kaaran in Hindi. पितृ ऋण के कारण व्यक्ति को मान प्रतिष्ठा के अभाव से पीड़ित होने के साथ-साथ संतान की ओर से कष्ट संतानाभाव संतान का स्वास्यि खराब होने या संतान का सदैव बुरी संगति जैसी […]

लग्न के अनुसार आपकी इष्टदेवता | Lagna ke anusar aapki Ishtadevta kaun hai

जानिये आपके इष्ट देव कौन है.. आपकी लग्न कुंडली मैं पंचम भाव का स्वामी गृह (पंचमेश ) आपके इष्ट देव है ! चाहे लाख दोष हो आपकी कुंडली मैं …गृह अच्छा फल नहीं दे रहे हो ….तो आप अपने इष्ट देव की आराधना करिये ! उनकी आराधना , उपासना , वंदना, पूजा करने से आपके […]

श्राद्ध करते समय ध्यान रखने 26 नियम | Shraddh Ke 26 Niyam

श्राद्ध करते समय ध्यान रखने योग्य 26 नियम धर्म ग्रंथों के अनुसार श्राद्ध के सोलह दिनों में लोग अपने पितरों को जल देते हैं तथा उनकी मृत्युतिथि पर श्राद्ध करते हैं। ऐसी मान्यता है कि पितरों का ऋण श्राद्ध द्वारा चुकाया जाता है। वर्ष के किसी भी मास तथा तिथि में स्वर्गवासी हुए पितरों के […]

कौनसी पूजा में कौनसी तिलक धरना करनी है | Kaunsi Puja me Kaunsi Tilak

कौनसी पूजा में कौनसी तिलक धरना करनी है | Kaunsi Puja me Kaunsi Tilak. शिवा पूजन करने समय, कृष्णा पूजन करने समय, देवी पूजन करने समय, गणपति पूजन करने समय – कौनसी तिलक धरना करनी है | ललाट के मध्यभाग में दोनों भौहों से कुछ ऊपर ललाट बिंदु कहलाता है। सदैव इसी स्थान पर तिलक […]

शंख का महत्त्व – शंख का स्वास्थय में, धर्म में, ज्योतिष में उपयोग | Shankh Mahatv

शंख का महत्त्व – शंख का स्वास्थय में, धर्म में, ज्योतिष में उपयोग | Shankh ka Mahatv. Importance of Shankh (Conch) in Health, Sanatan Dharma and Jyotish (Astrology). आइये जाने शंख का स्वास्थय में, धर्म में, ज्योतिष में उपयोग शंख का स्वस्थ्य में महत्व १ : शंख की आकृति और पृथ्वी की संरचना समान है […]

जन्म से मृत्यु तक कुंडली के 12 भाव | Kundli ke 12 Bhav

जन्म से मृत्यु तक कुंडली के 12 भाव मनुष्य के लिए संसार में सबसे पहली घटना उसका इस पृथ्वी पर जन्म है, इसीलिए प्रथम भाव जन्म भाव कहलाता है। जन्म लेने पर जो वस्तुएं मनुष्य को प्राप्त होती हैं उन सब वस्तुओं का विचार अथवा संबंध प्रथम भाव से होता है जैसे-रंग-रूप, कद, जाति, जन्म […]