Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

वृष राशिफल मार्च 2018 | Vrishabha Rashifal March 2018 | वृष राशि भविष्य

वृष राशि मार्च 2018 की मासिक राशिफल, पढ़े वृष राशि की दैनिक एवं साप्ताहिक राशि भविष्य मार्च 2018..

नाम के अनुसार वृष राशि: ई, उ, ए, ओ, वा, वी, वू, वे, वो|

नक्षत्र के अनुसार वृषभ राशि: कृत्तिका नक्षत्र का दूसरा, तीसरा और चौथा चरण; रोहिणी नक्षत्र का चार चरण; मृगशीर्ष नक्षत्र का पहला और दूसरा चरण |

पाश्चात्य ज्योतिष के अनुसार वृष राशिवाले वे है जो २१ अप्रैल और २१ मई दिनाक के बीच जन्म लिया है (सूर्य राशि) |

भारतीय वैदिक ज्योतिष के अनुसार वृष राशिवाले वे है जो १५ मई और १५ जून दिनाक के बीच जन्म लिया है (सूर्य राशि) |

वृषभ राशि के लिए शुभ मुहूर्त २०१८

वृष राशि भविष्य – 1 मार्च से 7 मार्च 2018 

२ मार्च से राशिस्वामी शुक्र मीन राशि से संचार करने की कारण से कई सोची कार्यों में कुछ हद तक सफलता मिलने की सम्भावना है | घर में कुछ शुभ कार्य होंगे | उत्साह और जोश के साथ किये गए कार्यों में सफलता होगी |
मंगल की वक्र दृष्टी होने के कारन कई बना हुआ कार्य भी बिगड़ सकता है | सप्ताह की दूसरी भाग में असंतुष्ट, धन-हानि, मान-हानि, अशांति होने की आशंका है | दुर्गा कवच व दुर्गा अष्टकम पाठ करना शुभ रहेगा |

वृष राशि भविष्य – 8 मार्च से 14 मार्च 2018 

राशिस्वामी शुक्र तथा बुध मीन राशि में संचार करने से संघर्षपूर्ण परिस्थितियों के बावजूद व्यापर में धनलाभ एवं प्रगति हो सकती है | व्यापर में आप पूरी तरह व्यस्त हो सकते है |

पारिवारिक जीवन में समस्याएं से आपकी व्यावसायिक उन्नति प्रभावित हो सकती है | अधिक खर्च भी आपके लिए भारी पड़ सकता है |

संतान सम्बन्धी चिंता भी रहेगी | १४ मार्च २०१८, चैत्र संक्रांति के दिन सूर्य अर्घ्य प्रधान करना, गायत्री मंत्र का जप करना, महामृत्युंजय मंत्र जप करना शुभ रहेगा |

वृष राशि भविष्य – 15 मार्च से 23 मार्च 2018

इस सप्ताह में सूर्य-बुध-शुक्र का योग मीन राशि पर होने से व्यापर में उन्नति के विशेष योग प्राप्ति होंगे | विदेश सम्बन्धी कार्यों की योजना भी बनेगी | वाहनादि विनोद व्यापकों में अधिक खर्च होंगे |

सप्ताहांत में सरकारी कार्यों में परेशानी होगी | स्वास्थ्य भी कुछ अच्छा नहीं होगा | गुस्सा व क्रोध आपके लिए बहुत महंगी पड़ सकती है | शनि की ढैय्या के कारन प्रत्येक कार्य में विघ्न होने की सम्भावना है | पारिवारिक जीवन में कलह की संकेत है | सावधानी और सोच की आवश्यकता है |

वृष राशि भविष्य – 24 मार्च से 31 मार्च 2018

वृष राशि के अष्टम में मंगल-शनि का योग होने से स्वास्थ्य सम्बन्धी परेशानी, क्रोध ज्यादा, व्यर्थ आलोचनाएं और विरोधियों को हानि पहुँचाने की कार्य करेंगे | २७ मार्च २०१८ से संघर्षपूर्ण परिस्तितियों के बावजूद दैनिक कार्यों में उन्नति होगी |

मानप्रतिष्ठा में वृद्धि और उत्साह से कार्य करने से सफलता के सम्भावना मिलेंगे | वृथा संवाद-विवाद एवं झगडे करने से चिंता होती है | सावधानी और सोच से काम करवाने की कला को अपनाने की ओर आप चलना चाहिए |
सुंदरकांड का पाठ, संकट मोचन हनुमान अष्टक का पाठ करने से शुभ होगा |

Write Your Comment