Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

मृगशीर्ष नक्षत्र फलम २०१८-२०१९ | मृगशीर्ष नक्षत्र भविष्य

मृगशीर्ष नक्षत्र फलम २०१८-२०१९, मृगशीर्ष नक्षत्र भविष्य २०१८-२०१९ हिंदी में.. मृगशीर्ष नक्षत्र सनातन ज्योतिष क्षेत्र की २७ नक्षत्र चक्र में पांचवी नक्षत्र है |

नक्षत्र के अनुसार वृषभ राशि: कृत्तिका नक्षत्र का दूसरा, तीसरा और चौथा चरण; रोहिणी नक्षत्र का चार चरण; मृगशीर्ष नक्षत्र का पहला और दूसरा चरण | नक्षत्र के अनुसार मिथुन राशि: मृगशीर्ष नक्षत्र का तीसरा और चौथा चरण; अरुद्रा नक्षत्र का चार चरण; पुनर्वसु नक्षत्र का पहला, दूसरा और तीसरा चरण.

जनवरी २०१८

बॉस के द्वारा आपको एक चेतावनी मिलने की आशंका है| आपको इस माह अस्त्र भीति और अग्नि भीति की आशंका है यानी आपको किसी अस्त्र या आग से डर होने की सूचना है|

कुछ काम आपको असंतुष्ट करने की आशंका है| उदास रहते हुवे इस माह बिताते है| आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं रहेगी| पैसों की कमी महसूस कर सकते है|| दक्षिण और दक्षिणी पश्चिम दिशा में सफर करने की सम्भावना है| सफर के वक्त आप बेचैन होजाते है|

आप को कई व्यक्तियों से अनावश्यक नफ्रत पैदा हो सकता है| ये नफ्रत आपके लिए महंगा साबित हो सकता है| अफसरों के साथ बात करते समय आप अपने संभाषण पे ध्यान दे और विश्वास के साथ बात करे |

उपाय

1] मंगल स्तोत्रं (कुज स्तुति) अथवा कुछ दुर्गा स्तोत्र का पाट करे | 2] शिवजी की पूजन करे| प्रतिदिन शिव भगवन की दर्शन करे | सप्ताह में एक दिन (मंगलवार) मंदिर में रुद्राभिषेक करवाये |

फरवरी २०१८

इस माह आपको कुत्ता, बिल्ली और हाथी जैसे जानवरों से डर रहेगा | अस्तिरता और मनोक्लेश से आप चिंतित रहेगा | एक बाधापूर्ण समाचार की सम्भावना है | चोर भीति आपको और चिंतित बनाएगी | असहिष्णता आपके कुशलता को टाल देगा और आपको अवैध व गैर क़ानूनी कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करेगा | एक बात याद रखे – अनावश्यक विवाद आपके मेधा शक्ति के लिए हानिकारक है |

स्वास्थ्य समस्याएं तथा हृद्रोग, उदर बाधा, गर्भस्राव, पाचन व्यवस्था के सम्बन्धित रोग आदि के लिए सावधान रहने की सोच रखे और पूर्वोपाय से यह समस्याएं दूर होजायेगा |

उपाय

1] शिवजी के मंदिर में प्रत्येक पूजन, रुद्राभिषेक कराये | 2] किसी भी शनिवार के दिन ‘शनि तैलाभिषेक पूजन’ करावे |

मार्च २०१८

इस माह में आपके बहुत बड़ी दुश्मन है – आपके क्रोध (गुस्सा). आपके मन में घबराहट से एक तनावपूर्ण स्तिति होगी, जिससे आप हार का सामना करना पड़ेगा | बुरी आदतों से दूर रहे | चोर भीति आपके यात्राओं की मधुर अनुभव को छीनलेगी |

हृद्रोग, ट्यूबरक्लोसिस और अस्थमा जैसे रोगों से सतर्क रहे | आप इन रोगों से पीड़ित हो तो इस बार और भी सावधान रहे |

धनहानि की आशंका है | नौकरीपेश वर्ग के लिए यह उतार-चढ़ाव की समय होगी | नौकरी बदलने की, स्थानांतरण (ट्रांसफर) के लिए करने की प्रयास और म्हणत फलदायक नहीं होगा |

उपाय

१] नवग्रह मंदिर की दर्शन करें | राहु के लिए विशेष पूजन करे | राहु स्तुति की जाप करें | २] माँ दुर्गा की दर्शन और विशेष पूजन करें | ३] किसी भी मंगलवार के दिन ‘राहुकाल दुर्गा पूजन’ करने से विशेष फल मिलेगा और बाधाएं दूर होंगे |

अप्रैल २०१८

इस माह में आपका पारिवारिक जीवन संतुष रहेगी| स्वादिष्ट कहना और अच्छी बातों से आप खुश रहेगा | महिलाओं के साथ आपका सम्बन्ध अच्छी रहेगी | आतंरिक व्यवहारों में आपका चाल चलने की सम्भावना है| ये आपको प्यूरी महीना खुश रखेगी |

समाज में आपका प्रतिशत बढ़ने वाली है| अपने बुजुर्गों को मिलके उनका आशीर्वाद प्राप्त करलेते है | व्यापर वृद्धि की सम्भावना है| आपके मेहनत की फल आना शुरू होगी| आपका श्रद्धा नृत्य, गीतालापन जैसे सांस्कृतिक कलाओं पे भी लगते है |

उपाय

1] दुर्गा मैय्या की आराधना शुभप्रद है| दुर्गा कवच, दुर्गा अष्टकम या किसी दुर्गा माता की स्तोत्र पठन करे | सप्ताह में एक दिन दुर्गा माँ की मंदिर जाके दर्शन करे | 2] सुब्रह्मण्य स्वामी (कार्तिकेय) की पूजन करे अथवा दत्तात्रेय प्रभु की आराधना करे| 3] गरीबों को अन्न वितरण करे| गरीब छात्रों को ख़िताब दिलवाये|

मई २०१८

दोस्त और रिश्तेदारों के साथ कुछ अच्छी समय बीत सकते है| आपका सामाजिक प्रतिशत बढ़ेगी | आपके समाज का वरिष्ठ व्यापारियों के साथ दोस्ती करते है| ये आपका व्यापर वृद्धि के लिए काम आती है | व्यापर बढ़ने की सुचना है |

भविष्य के बारे में सोचने की वक्त है| आनेवाले महीने और आनेवाली साल के बारे में सुनिशित कार्यनीति बनाते है | आपका कठोर मेहनत व्यर्थ नहीं होगी| धनलाभ की सुचना है |

उपाय

1] भगवन विष्णु की पूजन करे| वैष्णव मंदिर संदर्शन करे | 2] सप्ताह में एक दिन किसी भी वैष्णव मंदिर में (श्री राम मंदिर, कृष्णा मंदिर, नरसिम्हा मंदिर) में बैठके विष्णु सहस्रनाम की जाप करे |

जून २०१८

इस माह आपको कुत्ता, बिल्ली और हाथी जैसे जानवरों से डर रहेगा | अस्तिरता और मनोक्लेश से आप चिंतित रहेगा | एक बाधापूर्ण समाचार की सम्भावना है | चोर भीति आपको और चिंतित बनाएगी | असहिष्णता आपके कुशलता को टाल देगा और आपको अवैध व गैर क़ानूनी कार्य करने के लिए प्रोत्साहित करेगा | एक बात याद रखे – अनावश्यक विवाद आपके मेधा शक्ति के लिए हानिकारक है |

स्वास्थ्य समस्याएं तथा हृद्रोग, उदर बाधा, गर्भस्राव, पाचन व्यवस्था के सम्बन्धित रोग आदि के लिए सावधान रहने की सोच रखे और पूर्वोपाय से यह समस्याएं दूर होजायेगा |

उपाय

1] शिवजी के मंदिर में प्रत्येक पूजन, रुद्राभिषेक कराये | 2] किसी भी शनिवार के दिन ‘शनि तैलाभिषेक पूजन’ करावे |

जुलाई २०१८

इस माह में आपके बहुत बड़ी दुश्मन है – आपके क्रोध (गुस्सा). आपके मन में घबराहट से एक तनावपूर्ण स्तिति होगी, जिससे आप हार का सामना करना पड़ेगा | बुरी आदतों से दूर रहे | चोर भीति आपके यात्राओं की मधुर अनुभव को छीनलेगी |

हृद्रोग, ट्यूबरक्लोसिस और अस्थमा जैसे रोगों से सतर्क रहे | आप इन रोगों से पीड़ित हो तो इस बार और भी सावधान रहे |

धनहानि की आशंका है | नौकरीपेश वर्ग के लिए यह उतार-चढ़ाव की समय होगी | नौकरी बदलने की, स्थानांतरण (ट्रांसफर) के लिए करने की प्रयास और म्हणत फलदायक नहीं होगा |

उपाय

१] नवग्रह मंदिर की दर्शन करें | राहु के लिए विशेष पूजन करे | राहु स्तुति की जाप करें | २] माँ दुर्गा की दर्शन और विशेष पूजन करें | ३] किसी भी मंगलवार के दिन ‘राहुकाल दुर्गा पूजन’ करने से विशेष फल मिलेगा और बाधाएं दूर होंगे |

अगस्त २०१८

इस माह में आपके आर्थिक स्तिति अनुकूल रहेगी | आपके संतुलित और कौशल बुद्धि आपको सही तरफ लेजाती है | इस माह में आप सफ़ेद और साफ़ कपडे पहनेंगे | आपके सुंदरता और चतुरता सबको आकर्षित करेगा | विविद कार्यों को सँभालने की क्षमता, दृढ़ चित्त और विश्वास सबको चकित करेंगे |

आप नए नए लोगों को मिलते है | औरतों से रिश्ते बेहतर होंगे | मानसिक और शारीरक संबंधों के बारे में आप चर्चा में रहेंगे | नौकरी, व्यापर व व्यवसाय, शिक्षा व पढ़ाई में आपको बढ़ोतरी दिखेगी |

उपाय

इस माह में आपके स्तिति और बेहतर होने के लिए, श्री माँ लक्ष्मी मंदिर में पूजन करें | माँ लक्ष्मी की स्तोत्र जाप करें |

सितम्बर २०१८

धनलाभ की सुचना है| आपका मानसिक संतुलन और व्यक्तित्व आपको उंचाईयों की तरफ लेजायेगा | स्वस्थ और अर्थ व्यवस्ता आपके दशा के अनुसार अच्छी स्तिति में है| वस्त्रलाभ की सुचना और गेहने भी खरीदने की सुचना| आपके घरवालों को भी वस्त्रलाभ और अभरणलाभ की सुचना |

पश्चिम दिशा में सफर करेगा| आपके धैर्य और आत्मविश्वास सबको चकित करेगा | नौकरी और व्यापर की दृष्टिकोण में, ये एक अच्छी समय है, वृद्धि दिखती है| आपके बॉस के द्वारा प्रशंसा मिलेगी, और ग्रहाकोंसे भी अभिनन्दन की सुचना |

उपाय

1] दत्तात्रेय पूजन करे | 2] शिवलिंग की अभिषेक करे| शिव पंचाक्षरी मंत्रं जाप करे | 3] गरीब छात्रों को किताब वगैरा खरीदके दे |

अक्टूबर २०१८

बॉस के द्वारा आपको एक चेतावनी मिलने की आशंका है| आपको इस माह अस्त्र भीति और अग्नि भीति की आशंका है यानी आपको किसी अस्त्र या आग से डर होने की सूचना है|

कुछ काम आपको असंतुष्ट करने की आशंका है| उदास रहते हुवे इस माह बिताते है| आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं रहेगी| पैसों की कमी महसूस कर सकते है|| दक्षिण और दक्षिणी पश्चिम दिशा में सफर करने की सम्भावना है| सफर के वक्त आप बेचैन होजाते है|

आप को कई व्यक्तियों से अनावश्यक नफ्रत पैदा हो सकता है| ये नफ्रत आपके लिए महंगा साबित हो सकता है| अफसरों के साथ बात करते समय आप अपने संभाषण पे ध्यान दे और विश्वास के साथ बात करे |

उपाय

1] मंगल स्तोत्रं (कुज स्तुति) अथवा कुछ दुर्गा स्तोत्र का पाट करे | 2] शिवजी की पूजन करे| प्रतिदिन शिव भगवन की दर्शन करे | सप्ताह में एक दिन (मंगलवार) मंदिर में रुद्राभिषेक करवाये |

नवंबर २०१८

इस माह में आपके बहुत बड़ी दुश्मन है – आपके क्रोध (गुस्सा). आपके मन में घबराहट से एक तनावपूर्ण स्तिति होगी, जिससे आप हार का सामना करना पड़ेगा | बुरी आदतों से दूर रहे | चोर भीति आपके यात्राओं की मधुर अनुभव को छीनलेगी |

हृद्रोग, ट्यूबरक्लोसिस और अस्थमा जैसे रोगों से सतर्क रहे | आप इन रोगों से पीड़ित हो तो इस बार और भी सावधान रहे |

धनहानि की आशंका है | नौकरीपेश वर्ग के लिए यह उतार-चढ़ाव की समय होगी | नौकरी बदलने की, स्थानांतरण (ट्रांसफर) के लिए करने की प्रयास और म्हणत फलदायक नहीं होगा |

उपाय

१] नवग्रह मंदिर की दर्शन करें | राहु के लिए विशेष पूजन करे | राहु स्तुति की जाप करें | २] माँ दुर्गा की दर्शन और विशेष पूजन करें | ३] किसी भी मंगलवार के दिन ‘राहुकाल दुर्गा पूजन’ करने से विशेष फल मिलेगा और बाधाएं दूर होंगे |

दिसंबर २०१८

इस माह में आपके आर्थिक स्तिति अनुकूल रहेगी | आपके संतुलित और कौशल बुद्धि आपको सही तरफ लेजाती है | इस माह में आप सफ़ेद और साफ़ कपडे पहनेंगे | आपके सुंदरता और चतुरता सबको आकर्षित करेगा | विविद कार्यों को सँभालने की क्षमता, दृढ़ चित्त और विश्वास सबको चकित करेंगे |

आप नए नए लोगों को मिलते है | औरतों से रिश्ते बेहतर होंगे | मानसिक और शारीरक संबंधों के बारे में आप चर्चा में रहेंगे | नौकरी, व्यापर व व्यवसाय, शिक्षा व पढ़ाई में आपको बढ़ोतरी दिखेगी |

उपाय

इस माह में आपके स्तिति और बेहतर होने के लिए, श्री माँ लक्ष्मी मंदिर में पूजन करें | माँ लक्ष्मी की स्तोत्र जाप करें |

जनवरी २०१९

धनलाभ की सुचना है| आपका मानसिक संतुलन और व्यक्तित्व आपको उंचाईयों की तरफ लेजायेगा | स्वस्थ और अर्थ व्यवस्ता आपके दशा के अनुसार अच्छी स्तिति में है| वस्त्रलाभ की सुचना और गेहने भी खरीदने की सुचना| आपके घरवालों को भी वस्त्रलाभ और अभरणलाभ की सुचना |

पश्चिम दिशा में सफर करेगा| आपके धैर्य और आत्मविश्वास सबको चकित करेगा | नौकरी और व्यापर की दृष्टिकोण में, ये एक अच्छी समय है, वृद्धि दिखती है| आपके बॉस के द्वारा प्रशंसा मिलेगी, और ग्रहाकोंसे भी अभिनन्दन की सुचना |

उपाय

1] दत्तात्रेय पूजन करे | 2] शिवलिंग की अभिषेक करे| शिव पंचाक्षरी मंत्रं जाप करे | 3] गरीब छात्रों को किताब वगैरा खरीदके दे |

फरवरी २०१९

बॉस के द्वारा आपको एक चेतावनी मिलने की आशंका है| आपको इस माह अस्त्र भीति और अग्नि भीति की आशंका है यानी आपको किसी अस्त्र या आग से डर होने की सूचना है|

कुछ काम आपको असंतुष्ट करने की आशंका है| उदास रहते हुवे इस माह बिताते है| आर्थिक स्तिथि अच्छी नहीं रहेगी| पैसों की कमी महसूस कर सकते है|| दक्षिण और दक्षिणी पश्चिम दिशा में सफर करने की सम्भावना है| सफर के वक्त आप बेचैन होजाते है|

आप को कई व्यक्तियों से अनावश्यक नफ्रत पैदा हो सकता है| ये नफ्रत आपके लिए महंगा साबित हो सकता है| अफसरों के साथ बात करते समय आप अपने संभाषण पे ध्यान दे और विश्वास के साथ बात करे |

उपाय

1] मंगल स्तोत्रं (कुज स्तुति) अथवा कुछ दुर्गा स्तोत्र का पाट करे | 2] शिवजी की पूजन करे| प्रतिदिन शिव भगवन की दर्शन करे | सप्ताह में एक दिन (मंगलवार) मंदिर में रुद्राभिषेक करवाये |

मार्च २०१९

इस माह में आपके बहुत बड़ी दुश्मन है – आपके क्रोध (गुस्सा). आपके मन में घबराहट से एक तनावपूर्ण स्तिति होगी, जिससे आप हार का सामना करना पड़ेगा | बुरी आदतों से दूर रहे | चोर भीति आपके यात्राओं की मधुर अनुभव को छीनलेगी |

हृद्रोग, ट्यूबरक्लोसिस और अस्थमा जैसे रोगों से सतर्क रहे | आप इन रोगों से पीड़ित हो तो इस बार और भी सावधान रहे |

धनहानि की आशंका है | नौकरीपेश वर्ग के लिए यह उतार-चढ़ाव की समय होगी | नौकरी बदलने की, स्थानांतरण (ट्रांसफर) के लिए करने की प्रयास और म्हणत फलदायक नहीं होगा |

उपाय

१] नवग्रह मंदिर की दर्शन करें | राहु के लिए विशेष पूजन करे | राहु स्तुति की जाप करें | २] माँ दुर्गा की दर्शन और विशेष पूजन करें | ३] किसी भी मंगलवार के दिन ‘राहुकाल दुर्गा पूजन’ करने से विशेष फल मिलेगा और बाधाएं दूर होंगे |

Write Your Comment