Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

वैज्ञानिक तर्क – भोजन की शुरुआत तीखे से और अंत मीठे से | Bhojan ki shuruvath teekhe se aur anth meethe se

वैज्ञानिक तर्क – भोजन की शुरुआत तीखे से और अंत मीठे से | Bhojan ki shuruvath teekhe se aur anth meethe se..

जब भी कोई धार्मिक या पारिवारिक अनुष्ठान होता है तो भोजन की शुरुआत तीखे से और अंत मीठे से होता है।

वैज्ञानिक तर्क- तीखा खाने से हमारे पेट के अंदर पाचन तत्व एवं अम्ल सक्रिय हो जाते हैं। इससे पाचन तंत्र ठीक तरह से संचालित होता है। अंत में मीठा खाने से अम्ल की तीव्रता कम हो जाती है। इससे पेट में जलन नहीं होती है।

Write Your Comment