विद्यार्थियों हेतु प्रयोग | सरस्वती ध्यान एवं मंत्र जप (Saraswati Mantra Jaap for Students)

नवीन शिक्षा सत्र प्रारम्भ हो चुका है| विद्या की प्राप्ति एवं परीक्षा में सफलता हेतु माँ सरस्वती का ध्यान एवं मंत्र जप नित्य करना चाहिए|

माँ सरस्वती विद्या और बुद्धि की अधिदेवता है| पढ़ाई और बुद्धि विकास के लिए माँ सरस्वती की अनुग्रह होना आवश्यक होती है|

Saraswati Mata is the Goddess of wisdom and learning. Everyone needs the blessings of Goddess Saraswati for success in education, competitive exams and higher learning.

यह मंत्र जाप से बुद्धि विक्सित होती है| एकाग्रता यानि कंसंट्रेशन बढ़ानेवाली यह मंत्र नित्य अधिकधिक बार जप करे|

या कुन्देन्दुतुषारहारधवला या शुभ्रवस्त्रावृता
या वीणावरदण्डमण्डितकरा या श्वेतपद्मासना
या ब्रह्माच्युतशंकरप्रभृतिभिर्देवैः सदा पूजिता
सा मां पातु सरस्वति भगवती निःशेषजाड्यापहा ॥१॥

मंत्र: ॐ ऐं ह्रीं सरस्वत्यै नमः | 

Ya kundendu tusharahara dhavala, Ya shubravastravrita

Ya veena varadanda mandita kara, Ya shvetapadmasana

Ya-Brahma-chyuta-shankar-prabhritibhir, Devayeh-sada-vandita,

Sa-mam-patu-saraswati-bhagwati, Nihshesha-jadyapaha

Mantra: Om Aim Hreem Saraswatyai Namah |

Meaning:
Fair as a jasmine flower, the moon or a flake of snow, dressed in white, Her hands adorned by the graceful veena staff, seated on a white lotus, Adored by Brahma, Vishnu, Shiva, and the other deities, Protect me, Oh Goddess Saraswati, remover of ignorance inert.

Leave a Reply