Mangalvar Vrat Katha in Hindi

Mangalvar Vrat Katha in Hindi, Story of Mangalvar Vrat in Hindi is explained here along with the Mangal Bhagavan Katha. प्राचीन समय में ऋषिनगर में केशवदत्त ब्राह्मण अपनी पत्नी अंजलि के साथ रहता था. केशवदत्त को धन-संपत्ति की कोई कमी नहीं थी. सभी लोग केशवदत्त का सम्मान करते थे, लेकिन कोई संतान नहीं होने के कारण […]

Guruvar Vrat Katha in Hindi | Brihaspati Vaar Vrat Katha in Hindi

Guruvar Vrat Katha in Hindi, Story of Brihaspati Vaar Vrat in Hindi is explained here along with the Brihaspati Bhagavan Katha. वृहस्पतिवार (गुरुवार व्रत) कथा प्राचीन समय की बात है– एक बड़ा प्रतापी तथा दानी राजा था, वह प्रत्येक गुरुवार को व्रत रखता एवं पून करता था. यह उसकी रानी को अच्छा न लगता. न […]

Bhaidooj Pujan Katha in Hindi, Story of Bhaidooj

Bhaidooj Katha in Hindi, Bhaidooj Vrat Katha in Hindi is given here.. भाई दूज कथा भाई-बहन के अटूट प्रेम और स्नेह के प्रतीक का पर्व भाई दूज की कथा इस प्रकार से है- छाया भगवान सूर्यदेव की पत्नी हैं जिनकी दो संतान हुई यमराज तथा यमुना. यमुना अपने भाई यमराज से बहुत स्नेह करती थी. […]

Vat Savitri Vrat Katha in Hindi

Here is the story of Vat Savitri Vrat in Hindi. Vat Savitri Vrat Katha is mentioned in the Mahabharata as a conversation between King Yudhishtira and Markandeya. The story of Vat Savitri Vrat goes like this… सावित्री और सत्यवान की कथा सबसे पहले महाभारत के वनपर्व में मिलती है। जब युधिष्ठिर मारकण्डेय ऋषि से पूछ्ते […]

Ahoi Ashtami Vrat Katha in Hindi | अहोई अष्टमी व्रत कथा

अहोई अष्टमी का व्रत सन्तान की उन्नति, प्रगति और दीर्घायु के लिए होता है| यह व्रत कार्तिक कृष्ण पक्ष की अष्टमी को किया जाता है| दीपावली के ठीक एक हफ्ते  पहले पड़ती है l अहोई अष्टमी का व्रत विधि व्रत करने वाली स्त्री को इस दिन उपवास रखना चाहिए| सायं काल दीवार पर अष्ट कोष्ठक की […]

Ravivar Vrat Katha in Hindi

प्राचीन काल में एक बुढ़िया रहती थी. वह नियमित रूप से रविवार का व्रत करती. रविवार के दिन सूर्योदय से पहले उठकर बुढ़िया स्नानादि से निवृत्त होकर आंगन को गोबर से लीपकर स्वच्छ करती, उसके बाद सूर्य भगवान की पूजा करते हुए रविवार व्रत कथा सुन कर सूर्य भगवान का भोग लगाकर दिन में एक […]

Mahashivaratri Vrat Katha in Hindi

महाशिवरात्रि की पवित्र प्रामाणिक कथा पूर्व काल में चित्रभानु नामक एक शिकारी था। जानवरों की हत्या करके वह अपने परिवार को पालता था। वह एक साहूकार का कर्जदार था, लेकिन उसका ऋण समय पर न चुका सका। क्रोधित साहूकार ने शिकारी को शिवमठ में बंदी बना लिया। संयोग से उस दिन शिवरात्रि थी। शिकारी ध्यानमग्न […]

Shani Gochar 2017-2020 in Hindi | शनि गोचर 2017-2020 | शनि का धनु राशि में गोचर

कैसा रहेगा आपके लिए शनि का धनु राशि में गोचर? 26 जनवरी, 2017 को रात ७.३० बजे शनि अपनी शत्रु राशि वृश्चिक से से सम राशि धनु में प्रवेश करेंगे| इस राशि में २४ जनवरी 2020 तक रहेंगे| इस बीच में शनि २१ जून, 2017 को वक्री स्तिति में वृश्चिक राशि में प्रवेश करेंगे और […]

Meen Rashifal 2017-2018 in Hindi | मीन राशि भविष्य २०१७-२०१८

नाम के अनुसार मीन राशि: दी, दू, ज्ञ, झा, था, दे, दो, चा, ची| नक्षत्र के अनुसार मीन राशि: पूर्वभाद्र (पूर्वाभाद्रपद) नक्षत्र का चौथा चरण; उत्तरभाद्र (उत्तराभाद्रपद) नक्षत्र का चारों चरण; रेवती नक्षत्र का चारों चरण| पाश्चात्य ज्योतिष के अनुसार  मीन राशिवाले वे है जो २० फरवरी और २० मार्च दिनाक के बीच जन्म लिया है (सूर्य राशि)| भारतीय वैदिक ज्योतिष […]

Kumbh Rashifal 2017-2018 in Hindi | कुम्भ राशि भविष्य २०१७-२०१८

नाम के अनुसार कुम्भ राशि: गू, गे, गो, सा, सी, सू, से, सो, दा| नक्षत्र के अनुसार कुम्भ राशि: धनिष्ठा नक्षत्र का तृतीय और चौथा चरण; शतभिषा (शतर्क) नक्षत्र का चारों चरण; पूर्वभाद्र (पूर्वाभाद्रपद) नक्षत्र का प्रथम, द्वितीय और तृतीय चरण| पाश्चात्य ज्योतिष के अनुसार  कुम्भ राशिवाले वे है जो २१ जनवरी और १९ फरवरी दिनाक के बीच जन्म लिया है (सूर्य राशि)| […]