सम्पदा व्रत | 16-दिन की महालक्ष्मी व्रत

सम्पदा व्रत भाद्रपद् मास की शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि को धन सम्पति की देवी लक्ष्मी जी का डोरा बाँधते हैं। तथा आश्विन मास कि कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को डोरा खोलते है। डोरा बाँधते समय और डोरा खोलते समय व्रत रखकर कथा सुनते हैं। व्रत में पूजन करने के बाद दिन में एक […]

गुरुवार महालक्ष्मी व्रत | श्री महालक्ष्मीमहात्म्य व्रत

श्री महालक्ष्मी की व्रत कथा (गुरुवार की कथा) आइये भक्तजनों, धयान से सुने श्री महालक्ष्मी की व्रत कथा, गुरुवार की व्रतकथा, इसे श्रावण और पठन करने से दुःख दारिद्र्य दूर हो जाता है, श्री महालक्ष्मी माता की कृपा से सुख, संपत्ति,ऐश्वर्य प्राप्त होता है, मन की इच्छा पुरी होती है। व्रत विधि विधि नियम :- यह […]

वैभव लक्ष्मी व्रत

शुक्रवार को लक्ष्मी देवी का भी व्रत रखा जाता है। इसे वैभवलक्ष्मी व्रत भी कहा जाता है। इस दिन स्त्री-पुरुष देवी लक्ष्मी की पूजा-अर्चना करते हुए श्वेत पुष्प, श्वेत चंदन से पूजा कर तथा चावल और खीर से भगवान को भोग लगाकर प्रसाद ग्रहण करते हैं। इस व्रत के दिन उपासक को एक समय भोजन […]

करवा चौथ व्रत विधि | Karva Chauth Vrat Vidhi in Hindi

कार्तिक कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को करकचतुर्थी (करवा-चौथ) व्रत करने का विधान है। इस व्रत की विशेषता यह है कि केवल सौभाग्यवती स्त्रियों को ही यह व्रत करने का अधिकार है। स्त्री किसी भी आयु, जाति, वर्ण, संप्रदाय की हो, सबको इस व्रत को करने का अधिकार है। जो सौभाग्यवती (सुहागिन) स्त्रियाँ अपने पति की […]

राधाष्टमी पूजन

सनातन धर्म में भाद्रपद मास के शुक्ल पक्ष की अष्टमी तिथि श्री राधाष्टमी के नाम से प्रसिद्ध है। शास्त्रों में इस तिथि को श्री राधाजी का प्राकट्य दिवस माना गया है। श्री राधाजी वृषभानु की यज्ञ भूमि से प्रकट हुई थीं। वेद तथा पुराणादि में जिनका ‘कृष्ण वल्लभा’ कहकर गुणगान किया गया है, वे श्री […]

हरछठ

हरछठ पूजा ( हलषष्ठी) यह त्यौहार भादों कृष्ण पक्ष की छठ को मनाया जाता है। इसी दिन श्री कृष्ण के बड़े भाई बलराम का जन्म हुआ था। यह व्रत केवल पुत्रवती महिलाएं करती हैं। इस व्रत में पेड़ों के फल बिना बोया अनाज आदि खाने का विधान है।केवल पड़िया (भैंस का बच्चा ) वाली भैंस […]

कमोडिटी ट्रेडिंग जुलाई 2017 | व्यापार भविष्य

मासारम्भ में मंगल सूर्य बुध मिथुन राशि में भ्रमणशील रहेंगे| २ जुलाई को बुध, पश्चिम में उदय होने से रुई, कपास में कुछ सुधार सिल्वर में मंदी तथा पाटपटसन, हैसियत में कुछ सुधार संभावित हो सकते है| इस तारीख को बुध करके राशि में प्रवेश जरने से रुई, कपास में मंदी चांदी में घट-बढ़ गुड़, […]

Mangalvar Vrat Katha in Hindi

Mangalvar Vrat Katha in Hindi, Story of Mangalvar Vrat in Hindi is explained here along with the Mangal Bhagavan Katha. प्राचीन समय में ऋषिनगर में केशवदत्त ब्राह्मण अपनी पत्नी अंजलि के साथ रहता था. केशवदत्त को धन-संपत्ति की कोई कमी नहीं थी. सभी लोग केशवदत्त का सम्मान करते थे, लेकिन कोई संतान नहीं होने के कारण […]

Guruvar Vrat Katha in Hindi | Brihaspati Vaar Vrat Katha in Hindi

Guruvar Vrat Katha in Hindi, Story of Brihaspati Vaar Vrat in Hindi is explained here along with the Brihaspati Bhagavan Katha. वृहस्पतिवार (गुरुवार व्रत) कथा प्राचीन समय की बात है– एक बड़ा प्रतापी तथा दानी राजा था, वह प्रत्येक गुरुवार को व्रत रखता एवं पून करता था. यह उसकी रानी को अच्छा न लगता. न […]

Bhaidooj Pujan Katha in Hindi, Story of Bhaidooj

Bhaidooj Katha in Hindi, Bhaidooj Vrat Katha in Hindi is given here.. भाई दूज कथा भाई-बहन के अटूट प्रेम और स्नेह के प्रतीक का पर्व भाई दूज की कथा इस प्रकार से है- छाया भगवान सूर्यदेव की पत्नी हैं जिनकी दो संतान हुई यमराज तथा यमुना. यमुना अपने भाई यमराज से बहुत स्नेह करती थी. […]